Loading

एन.एस.एस./एन.सी.सी./रोवर रेंजर

PCGE में एन.सी.सी., एन.सी.सी., रोवर (पुरुष स्काउट), रेंजर (महिला स्काउट) गतिविधियों का आयोजन किया जाता है जिससे यहाँ के विद्यार्थियों को ‘मैं’ के सीमित खोल से बाहर निकालकर ‘हम’ के विस्तार में बदला जाता है। यहाँ इन कार्यक्रमों को किसी प्रकार की औपचारिकता निभाने के लिए नहीं बल्कि निष्ठा के साथ संपन्न किया जाता है ताकि ये कार्यक्रम विद्यार्थी में नैतिक मूल्यों को पोषित कर चरित्र को सुदृढ़ बनाने के कार्यक्रम बनें।

राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम (NSS)

   PCGE में NSS कार्यक्रम का उद्देश्य है –

  • समाज की आवश्यकताओं को पहचान कर समस्या-समाधान पद्धति से विद्यार्थियों में नि:स्वार्थ समाज सेवा करने का भाव विकसित करना।
  • विद्यार्थियों में सामाजिक संवेदनशीलता एवं सामाजिक दायित्व का भाव विकसित करना।
  • हमारे नौजवान जिस समाज के लिए कार्य कर रहे हैं उस समाज को अच्छी तरह समझना।
  • विद्यार्थियों में राष्ट्रीय सेवा योजना का कार्य करते हुए लोकतांत्रिक मूल्यों एवं नेतृत्व क्षमता का विकास करना।
  • स्वयं के विकास के साथ-साथ परमार्थवाले व्यक्तित्वों को विकसित करना। PCGE में इन लक्ष्यों को ध्यान में रखकर प्रतिवर्ष वृक्षारोपण, स्वच्छता, स्वास्थ्य एवं शिक्षा-संबंधी सर्वेक्षण, रक्तदान, यातायात व्यवस्था में सहयोग आदि कार्य करवाये जाते हैं। सामाजिक सरोकार से जुड़े विषयों पर चर्चा, संगोष्ठी, विशिष्ट भाषण, प्रदर्शनी, रैली, सेवाकार्य, आवासीय शिविर आयोजन आदि करवाए जाते हैं। इच्छुक विद्यार्थी NSS में भाग लेते है, उन्हें इसका प्रमाण-पत्र भी दिया जाता है जो आगे उनके कॅरिअर में उपयोगी होता है।
  • PCGE में NSS की स्थापना 2009-10 में हुई जिसका उद्देश्य समाज की ज़रूरतों और तकलीफों को पहचानना व विद्यार्थी को जीवन में आनेवाली विकट परिस्थितियों में समस्या-समाधान की प्रक्रिया से जोड़ना तथा उन्हें समाज के प्रति समर्पित एवं संवेदनशील बनाना है।
  • इसकी दो इकाइयाँ हैं, प्रत्येक में 100 छात्र-छात्राएँ हैं। विद्यार्थी इसके सामाजिक विकास के विभिन्न कार्यक्रमों में पूरे उत्साह से भाग लेते हैं और समाज के लिए अपना योगदान देने पर गर्व महसूस करते हैं।

प्रमुख NSS गतिविधियाँ

   NSS कार्यक्रम के तहत करीब 352 छात्रों के द्वारा ”द्रव्यवती नदी के पास रहनेवाले लोगों की स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएँ“ विषय पर रिसर्च सर्वे किया गया । इस सर्वे के तहत छात्रों ने वहाँ के निवासियों की स्वच्छता व स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का अध्ययन किया जिसका supervision कॉलेज के शिक्षकों द्वारा किया गया।

राष्ट्रीय केडट कोर (NCC)

   PCGE में NCC छात्रों में देश-रक्षा, नेतृत्व, अनुशासन व नि:स्वार्थ सेवा आदि भावों को जगाती है। हमारे छात्र NCC के तीनों विंग्स – वायु, थल, जल में भाग लेते हैं। छात्र तीन वर्ष का C सर्टिफिकेट कोर्स प्राप्त कर अनेक प्रकार के जॉब्स में उसका लाभ लेते हैं। इस सर्टिफिकेट से रक्षा-सेवा में जाने के इच्छुक छात्रों को बिना प्रवेश-परीक्षा के ही सीधे प्रवेश दे दिया जाता है।

   हमारे NCC Cadets को गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेने का विशेष मौका मिला है।

   इस वर्ष भी NCC (राष्ट्रीय कैडेट कोर) केडेट गणतंत्र दिवस परेड़-2019 में राष्ट्रीय स्तर पर दूसरा स्थान प्राप्त कर चुका है, जो अपने-आपमें बड़ी उपलब्धि है।

रोवर/रेंजर (Rover/Ranger)

  • रोवर (पुरुष स्काउट), रेंजर (महिला स्काउट) का उद्देश्य ‘समाज सेवा’ है। नि:स्वार्थ भाव से, त्याग के भाव से समाज की विभिन्न प्रकार की समस्याओं को दूर करने में रोवर/रेंजर व्यक्तिगत रूप से एवं संगठित रूप से सेवाएँ देते हैं।
  • PCGE के इच्छुक छात्र-छात्राएँ रोवर/रेंजर के प्रशिक्षण शिविरों में नियमित भाग लेते हैं और उसके बाद समाज सेवा करके अपने चरित्र को उज्ज्वल बनाते हैं।
  • PCGE में प्रतिवर्ष रोवर्स के एवं रेंजर्स के समूह गठित किए जाते हैं। ये कॉलेज में आयोजित होनेवाले सभी समारोहों में भी, अपने गणवेश में, व्यवस्था, सेवा एवं अनुशासन बनाए रखने में स्वयं- सेवक के रूप में विशेष भूमिका निभाते हैं और विशिष्ट बनते हैं।