Loading

निदेशक का संदेश

डॉ. राघव प्रकाश

निदेशक

        विद्यार्थी के मस्तिष्क की सबसे मूल्यवान क्षमता है उसकी नवाचारी विचारशीलता। वही तो उसे और समाज को आगे बढ़ाती है और उसी को जगाने और बढ़ाने के लिए समर्पित है— परिष्कार कॉलेज ऑफ ग्लोबल एक्सीलेंस यानी PCGE। हमने शिक्षा पद्धति को आमूलचूल बदल दिया है। हॉर्वर्ड, MIT, कोलंबिया विश्वविद्यालय, UCLA, UC बर्कली, यूनिवर्सिटी ऑफ सार्क, केलिफोर्निया आदि के उत्कृष्ट विद्वानों से परिष्कार के शिक्षकों का संवाद करके, उनके सफल प्रयोगों के अनुसार, हम हमारे पढ़ाने के तरीकों को विद्यार्थी-केंद्रित करके, उनकी शोध-प्रवृत्ति, विश्लेषणात्मक क्षमता तथा नवाचार एवं सर्जनात्मकता को विकसित करने का काम कर रहे हैं। इन्हीं तरीकों और गतिविधियों से PCGE के विद्यार्थी IAS, RAS, SSC, NDA, Bank, Railway आदि प्रतियोगिताओं में सफल होने की अद्भुत सामर्थ्य विकसित कर रहे हैं। हम विद्यार्थियों की सोच को किताबों के सीमित दायरे से बाहर निकालते हैं ताकि वे अधिकाधिक जान सकें, वर्तमान प्रतियोगी युग के तनाव का सामना करने की क्षमता प्राप्त कर सकें और अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में लगातार आगे बढ़ सकें। हमारी सोच है कि हम विद्यार्थियों की जिंदगी को सार्थक, सर्जनात्मक व आनंदमय बनाएँ। इस स्वप्न को साकार करने के लिए हम PCGE के हर विद्यार्थी को इस रूप में तैयार करते हैं कि वह सामान्य ज्ञान, गणित, तर्कशक्ति, अंग्रेजी तथा हिंदी (बोलने व लिखने दोनों में) में दक्षता हासिल कर सके, साथ ही व्यक्तित्व विकास की गतिविधियों के ज़रिए भविष्य की गंभीर चुनौतियों का मुकाबला कर सके। PCGE में नवीनतम तकनीकों, जैसे— शोध-गतिविधि, समूह-चर्चा, कार्यशाला, संगोष्ठी, मॉक साक्षात्कार एवं प्रबुद्ध-विचारकों के साथ विद्यार्थियों के रचनात्मक संवाद आदि के आयोजन द्वारा विद्यार्थियों में बौद्धिक क्षमता विकसित की जाती है जिससे वे ज़िंदगी के साक्षात्कारों में निश्चित सफलता हासिल कर सकें। परिष्कार कॉलेज ऑफ़ ग्लोबल एक्सीलेंस (PCGE) की गुणात्मक शिक्षा से अवश्य जुड़ें जिससे आपका ज्ञान और प्रस्तुति-कौशल, रचनात्मकता के उत्कृष्ट शिखर तक पहुँच सके और आप जो बनना चाहते हैं, वह अवश्य बनें।